महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल ने किया सिगनल कारखाने का गहन निरीक्षण

    महाप्रबंधक ने किया सिगनल कारखाने में निर्मित 2,50,000वीं रिले का निर्गमन

    गोरखपुर ब्यूरो : पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल ने हाल ही में गोरखपुर छावनी स्थित सिगनल कारखाने का गहन निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान प्रमुख मुख्य इंजीनियर पी. डी. शर्मा, प्रमुख मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर श्रीकांत सिंह, प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर बेचू राय, प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर ए. के. पांडेय, प्रमुख वित्त सलाहकार एन. पी. पांडेय, प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी एल. बी. राय, मुख्य सामग्री प्रबंधक ए. के. गुप्ता तथा मुख्य कारखाना प्रबंधक/सिगनल कारखाना जी. पी. एस. नारायण सहित सभी संबंधित वरिष्ठ रेल अधिकारी भी उपस्थित थे.

    महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने रिले एवं पैनल कक्ष के निरीक्षण के दौरान नवीनीकृत रिले शॉप का उद्घाटन किया. उन्होंने ट्रैक रिले असेंबली सेक्शन, एकीकृत रिले उत्पाद एवं परीक्षण सेक्शन, इन्ड्युरेंस टेस्ट लैब तथा रिले टेस्टिंग सेक्शन का निरीक्षण किया तथा इनकी कार्य-प्रणाली के संबंध में अधिकारियों से चर्चा की. सिगनल कारखाने में निर्मित 2,50,000वीं रिले का निर्गमन करने के बाद महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने इलेक्ट्रिक लिफ्टिंग बैरियर गेट के प्रदर्शन को देखा तथा उसकी सराहना की. उन्होंने विद्युत प्वाइंट मशीन की कार्य-प्रणाली देखने के बाद सामान्य कक्ष एवं यंत्र कक्ष के विभिन्न खंडों का निरीक्षण भी किया. निरीक्षण के दौरान महाप्रबंधक ने कारखाना परिसर में शीतल पेयजल स्थल का उद्घाटन किया तथा श्रमिक वाटिका में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वृक्षारोपण भी किया.

    निरीक्षण के पश्चात् एक बैठक में अधिकारियों को संबोधित करते हुए महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने सिगनल कारखाना द्वारा उत्पाद की गुणवत्ता पर विशेष बल दिए जाने की सराहना की तथा साफ-सफाई के उच्च स्तर पर प्रसन्नता व्यक्त की. कारखाने की कार्य-प्रणाली में और अधिक सुधार हेतु अनेक व्यवहारिक सुझाव देते हुए श्री अग्रवाल ने एनर्जी ऑडिट के लिए हर सेक्शन में एनर्जी मीटर लगाए जाने का सुझाव दिया. सिगनल कारखाना के आधुनिकीकरण में हरसंभव सहायता का आश्वासन देते हुए उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्य-कुशलता की सराहना की. बैठक के दौरान महाप्रबंधक को सिगनल कारखाना की गतिविधियों, उत्पादों एवं उपलब्धियों की विस्तृत जानकारी पावर प्वाइंट के माध्यम से दी गई.


    महाप्रबंधक द्वारा सैयद मोदी रेलवे स्टेडियम में तरणताल का शुभारम्भ

    पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल ने हाल ही में सैयद मोदी रेलवे स्टेडियम, गोरखपुर स्थित तरणताल का शुभारम्भ किया. इस अवसर पर पूर्वोत्तर रेलवे महिला कल्याण संगठन की अध्यक्ष श्रीमती अलका अग्रवाल, संगठन की सदस्यायें, अपर महाप्रबंधक आनंद प्रकाश, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी/निर्माण सुधांशु शर्मा, अध्यक्ष पूर्वोत्तर रेलवे क्रीड़ा संघ, महामंत्री/पूर्वोत्तर रेलवे क्रीड़ा संघ प्रवीण कुमार अग्रवाल सहित सभी विभाग प्रमुख, वरिष्ठ रेल अधिकारी, कर्मचारी एवं खिलाड़ी उपस्थित थे. इस मौके पर महाप्रबंधक श्री अग्रवाल एवं अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारियों ने वृक्षारोपण किया तथा महाप्रबंधक ने कम आयु वर्ग के तैराक बच्चों से परिचय प्राप्त कर उनका उत्साहवर्धन भी किया.

    तरणताल का शुभारम्भ करते हुए महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने कहा कि काफी लंबे अंतराल के बाद विगत वर्ष इसका शुभारम्भ किया गया था, तब से इसमें तैराक अपना अभ्यास करते रहे हैं, जिससे उनकी तैराकी में निखार आया है. महाप्रबंधक ने आशा व्यक्त की कि पूर्वोत्तर रेलवे के तैराक इस तरणताल का भरपूर उपयोग करेंगे तथा इसका लाभ उठाकर पूर्वोत्तर रेलवे का नाम रोशन करेंगे.

    इसके पूर्व, महामंत्री/नरसा पी. के. अग्रवाल ने महाप्रबंधक एवं अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारियों का स्वागत किया तथा इस तरणताल की उपयोगिता पर विस्तार से प्रकाश डाला. पूर्वोत्तर रेलवे क्रीड़ा संघ की तैराकी विंग के सचिव रविन्दर मेहरा ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए तरणताल के क्रिया-कलापों तथा प्रशिक्षित हो रहे तैराकों के बारे में विस्तृत जानकारी दी.

    इस अवसर पर बच्चों के बीच एक तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया, जिसमें कम आयु वर्ग के बच्चों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया. इसके अतिरिक्त तैराकों के बीच एक वाटर पोलो मैच का आयोजन किया गया, जिसका दर्शकों ने भरपूर आनंद उठाया.


    राजभाषा कार्यशाला का आयोजन

    पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख मुख्य इंजीनियर पी. डी. शर्मा की अध्यक्षता में राजभाषा कार्यशाला का आयोजन इंजीनियरिंग विभाग, गोरखपुर में किया गया. कार्यशाला को संबोधित करते हुए प्रमुख मुख्य इंजीनियर पी. डी. शर्मा ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन से कर्मचारियों में एक-दूसरे के साथ अनुभव बांटने का अवसर प्राप्त होता है. उन्होंने कार्यशाला के नियमित आयोजन हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया. श्री शर्मा ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपनी निरीक्षण रिपोर्ट हिंदी में ही जारी करें तथा उसमें राजभाषा हिंदी के प्रयोग-प्रसार पैरा का उल्लेख भी किया करें.

    इससे पहले उप मुख्य इंजीनियर/टीएमएस एवं राजभाषा संपर्क अधिकारी सी. एम. चौधरी ने कार्यशाला में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का स्वागत करते हुए इंजीनियरिंग विभाग में राजभाषा संबंधी गतिविधियों का विवरण प्रस्तुत किया. उन्होंने कार्यशाला का नियमित आयोजन करने हेतु प्रमुख मुख्य इंजीनियर द्वारा दिए गए निर्देश का उचित पालन किए जाने का आश्वासन दिया.

    इस अवसर पर श्याम बाबू शर्मा, वरिष्ठ अनुवादक ने गूगल वायस टाइपिंग का डेमो प्रस्तुत किया. कार्यशाला में राजभाषा अधिकारी ध्रुव कुमार श्रीवास्तव एवं इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे. श्रीमती स्वाति दुबे, वरिष्ठ अनुवादक ने धन्यवाद ज्ञापित किया तथा कार्यशाला का समन्वय रतन लाल सैनी, कार्यालय अधीक्षक ने किया.


    डीसीएम देवानंद यादव के तूफानी दौरों से मंडल की उत्पादकता में पर्याप्त सुधार

    पूर्वोत्तर रेलवे, लखनऊ मंडल के मंडल वाणिज्य प्रबंधक देवानंद यादव ने गुरूवार, 11 अप्रैल को गोरखपुर जं. स्टेशन पर यात्री सुख-सुविधा से जुड़े विभिन्न स्थलों का गहन निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान उन्होंने स्टेशन एवं गाड़ियों की साफ-सफाई व्यवस्था में भारी कोताही पाए जाने पर संबंधित सफाई एजेंसी पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया. श्री यादव ने जन-आहार का निरीक्षण किया तथा खानपान व्यवस्था में कमी पाए जाने पर 2000 रुपये का दंड लगाया.

    डीसीएम श्री यादव ने कैब-वे पार्किग स्थल में पाई गई अनियमितता हेतु पार्किंग कांट्रेक्टर पर 3000 रुपये का अर्थदंड लगाया. उन्होंने विभागीय खानपान स्टाल, पार्सल कार्यालय, बुकिंग कार्यालय, सीआईटी कार्यालय एवं मुख्य चल टिकट निरीक्षक कार्यालय आदि स्थलों का भी निरीक्षण किया तथा वहां पाई गई कमियों के लिए नियमानुसार कार्यवाही हेतु निर्देशित किया. उन्होंने पार्सल कार्यालय में रखे पैकेटों का माप-तौल कराया तथा प्रेषित कागजात के अनुसार सही न पाए जाने पर संबंधित कर्मचारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्यवाही हेतु निर्देश दिया.

    उन्होंने स्टेशन परिसर में निरंतर टिकट जांच का निर्देश भी दिया. प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री यादव अपने निरीक्षण के दौरान सिर्फ वाणिज्य और परिचालन विभाग के ही नहीं, बल्कि अन्य सभी विभागों की खामियों एवं कोताहियों के प्रति भी संबंधित कर्मचारियों को सुधार के लिए निर्देशित करते चलते हैं. उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ दिनों में श्री यादव ने मंडल के विभिन्न स्टेशनों का निरीक्षण दौरा करके न सिर्फ वहां की खामियों को पकड़ा, बल्कि कोताही बरतने वालों पर भारी जुर्माना लगाकर उन्हें कार्य के प्रति चौकस रहने की चेतावनी भी दी, इससे मंडल के कामकाज में पर्याप्त सुधार और उत्पादकता में उल्लेखनीय वृद्धि परिलक्षित हो रही है.

Important Links