हुबली में आईआरटीसीएसओ की 18वीं वार्षिक सर्वसाधारण सभा संपन्न

    महाप्रबंधक/द.प.रे. अजय कुमार सिंह प्रदान किया 50 हजार का पुरस्कार

    नई गाड़ियों के लिए नए पदों का सृजन और ‘रनिंग स्टाफ’ का दर्जा देने की मांग

    हुबली : इंडियन रेलवे टिकट चेकिंग स्टाफ आर्गेनाईजेशन (आईआरटीसीएसओ) की 18वीं राष्ट्रीय वार्षिक सर्वसाधारण सभा (एजीएम) बुधवार, 10 अप्रैल को हुबली में संपन्न हुई. इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में दक्षिण पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक अजय कुमार सिंह की उपस्थिति विशेष उल्लेखनीय रही. इस मौके पर प्रिंसिपल सीसीएम/द.प.रे. शिवराज सिंह, एसडीजीएम/द.प.रे. श्री सक्सेना और डॉ. ए. डिक्रुज, सहायक महामंत्री/एआईआरएफ एवं महामंत्री, दक्षिण पश्चिम रेलवे मेंस यूनियन (एसडब्ल्यूआरएमयू) के साथ ही लगभग सभी जोनों/मंडलों से आया टिकट चेकिंग स्टाफ बड़ी संख्या में उपस्थित था.

    दीप प्रज्वलन कर उपरोक्त सभी अतिथियों ने कार्यक्रम का उदघाटन किया. इस मौके पर बड़ी संख्या में उपस्थित टिकट चेकिंग स्टाफ को संबोधित करते हुए महाप्रबंधक अजय कुमार सिंह ने आईआरटीसीएसओ/द.प.रे. के अच्छे कार्यों की सराहना करते हुए उसे 50 हजार रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा भी की.

    प्रिंसिपल सीसीएम शिवराज सिंह ने अपने संबोधन में टिकट चेकिंग स्टाफ को कार्य के दौरान पेश आने वाली समस्याओं और दिक्कतों का उल्लेख करते हुए उनके समाधान का आश्वासन दिया. डॉ. ए. डिक्रुज ने टिकट चेकिंग स्टाफ को रनिंग स्टाफ का दर्जा दिलाने में यथासंभव मदद करने की बात कही.

    इस वार्षिक अधिवेशन में टिकट चेकिंग स्टाफ को कार्य के दौरान और उसके बाद होने वाली परेशानियों सहित विभिन्न समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की गई. इस अवसर पर प्रमुख रूप से टिकट चेकिंग स्टाफ को रनिंग स्टाफ के दर्जे की पुनर्बहाली, सभी रिक्त पदों को भरने, नई गाड़ियों के लिए नए पदों का सृजन किए जाने, पांच कोचों में कार्य करने के आदेश को अविलंब वापस लिए जाने, ड्रेस एलाउंस 10 हजार रुपये किए जाने के साथ ही टिकट चेकिंग स्टाफ एवं यात्रियों की पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित किए जाने इत्यादि मुद्दों पर चर्चा हुई.

    उपरोक्त समस्त जानकारी आईआरटीसीएसओ/द.प.रे. के जोनल महामंत्री नजीर अहमद मकंदर द्वारा ‘रेल समाचार’ को भेजी गई एक विज्ञप्ति में दी गई है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस वार्षिक सर्वसाधारण सभा में आईआरटीसीएसओ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का गठन लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत यशवंत सिंह परिहार की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय निर्वाचन समिति की देखरेख में किया गया, जिसमें अध्यक्ष मनीष श्रृंगऋषि, कार्यकारी अध्यक्ष ए. एल. राव, महामंत्री हेमंत सोनी, सह-महामंत्री लोकेश राव, कोषाध्यक्ष योगेश पंडित सहित कुल 87 पदाधिकारियों का निर्वाचन एवं चयन सर्वसम्मति से किया गया.

Important Links