लेडीज स्पेशल लोकल ट्रेनें बढ़ाई जाएं -कंचन खरे, जेडआरयूसीसी सदस्य, म. रे.

    मुंबई : जोनल रेलवे उपभोगकर्ता सलाहकार समिति, मध्य रेलवे की सदस्य श्रीमती कंचन खरे ने मुंबई उपनगरीय ट्रेनों में कामकाजी महिलाओं की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए ज्यादा लेडीज स्पेशल लोकल ट्रेनें चलाए जाने की मांग की है. उन्होंने 12 जुलाई को मध्य रेलवे के महाप्रबंधक डी. के. शर्मा से व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात करके उन्हें विभिन्न मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपे. उन्होंने कहा कि सुबह और शाम के पीक ऑवर में कर्जत-कसारा-कल्याण स्टेशनों के लिए कम से कम दो और लेडीज स्पेशल लोकल ट्रेनों को चलाए जाने की जरूरत है.

    उन्होंने कहा कि कल्याण, कर्जत और कसारा लोकल ट्रेनों के कोचों की सीटिंग व्यवस्था को पूर्ववत किया, क्योंकि लंबी दूरी की इन लोकल गाड़ियों के कोचों से एक तरफ की सीटें निकाल दिए जाने से वरिष्ठ नागरिकों और गर्भवती महिलाओं को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इसके साथ ही उन्होंने दिव्यांग डिब्बे के बीच में एक स्टैंड लगाए जाने की भी मांग की है, इससे दिव्यांगों को भीड़ के समय खड़े रहने में थोड़ी आसानी होगी. दिव्यांग डिब्बे में सीसीटीवी लगाई जाए, दिव्यांगों के लिए अलग हेल्प लाइन नंबर हो, डिब्बे के बाहर एक बड़ा बोर्ड लगाया जाए, हर स्टेशन पर इसकी घोषणा की जाए, जिससे अनधिकृत लोगों के इस डिब्बे में यात्रा करने पर रोक लगाई जा सके. दिव्यांग डिब्बे में यात्रा करते पाए जाने वालों के विरुद्ध कड़ी दंडात्मक कार्रवाई की जाए.

    फोटो परिचय: मध्य रेलवे के महाप्रबंधक डी. के. शर्मा को ज्ञापन देने के बाद संबंधित विषयों पर उनके साथ चर्चा करते हुए जेडआरयूसीसी सदस्य श्रीमती कंचन खरे. इस अवसर पर मध्य रेलवे के सचिव साकेत मिश्रा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

    भाजपा और संघ कार्यकर्ता के रूप में लंबे समय से रेलयात्रियों सहित रेलकर्मियों की समस्याओं के प्रति सक्रिय श्रीमती खरे ने पिछले हप्ते पुणे, दौंड, कुर्दुवाडी और सोलापुर स्टेशनों पर उपलब्ध यात्री सुविधाओं का भी जायजा लिया. इसके अलावा वह रेलकर्मियों की भी समस्याओं के प्रति अत्यंत सक्रिय हैं. उन्होंने पश्चिम रेलवे की ट्रैक मेंटेनर एसोसिएशन द्वारा 24 जुलाई को दादर में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेकर उनकी समस्याओं को रेल प्रशासन के समक्ष उठाने का आश्वासन दिया. इससे पहले उन्होंने कई जगह मौके पर जाकर ट्रैक मैनों को ट्रैक पर काम करते हुए उनकी कार्य-स्थितियों का भी अवलोकन किया है.

    फोटो परिचय: पश्चिम रेलवे की ट्रैक मेंटेनर एसोसिएशन के कार्यक्रम में ट्रैक मैनों को संबोधित करते हुए जेडआरयूसीसी सदस्य श्रीमती कंचन खरे.

सम्पादकीय