यात्री सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार और रेलवे की विश्वसनीयता में वृद्धि -प्रदीप कुमार

    रेलकर्मियों की समस्याओं का समाधान और सेवा संबंधी सुविधाओं को तत्परतापूर्वक किया जाए

    मेंबर स्टाफ द्वारा पूर्वोत्तर रेलवे के कार्मिक, चिकित्सा एवं सुरक्षा विभागों के कार्यकलापों की समीक्षा

    गोरखपुर ब्यूरो : मेंबर स्टाफ एवं मेंबर ट्रैक्शन, रेलवे बोर्ड एवं पदेन सचिव, भारत सरकार प्रदीप कुमार ने सोमवार, 20 मार्च को पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र, अपर महाप्रबंधक योगेश अस्थाना एवं पूर्वोत्तर रेलवे के सभी विभाग प्रमुखों के साथ महाप्रबंधक सभाकक्ष, गोरखपुर में आयोजित एक बैठक में पूर्वोत्तर रेलवे के कार्मिक, चिकित्सा एवं सुरक्षा विभागों के कार्यकलापों की गहन समीक्षा की.

    बैठक को संबोधित करते हुए मेंबर स्टाफ प्रदीप कुमार ने पूर्वोत्तर रेलवे की विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धियों की सराहना करते हुए कहा कि पूर्वोत्तर रेलवे यात्री सुविधाओं में विस्तार एवं रेल परिवहन हेतु अपेक्षित आधारभूत ढ़ांचे के विकास के क्षेत्र में निरंतर सराहनीय कार्य कर रहा है. इसके फलस्वरूप यात्री सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार के साथ ही रेल परिवहन की विश्वसनीयता में वृद्धि हो रही है.

    मेंबर स्टाफ प्रदीप कुमार, जो कि मेंबर ट्रैक्शन का भी अतिरिक्त प्रभार देख रहे हैं, ने कहा कि भारतीय रेल विकास के नए दौर से गुजर रही है और समस्त क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर अभिनव कार्य किए जा रहे हैं. उन्होंने कार्मिक, चिकित्सा एवं सुरक्षा विभागों के कार्यकलापों की गहन समीक्षा करते हुए कहा कि पूर्वोत्तर रेलवे ने रेलकर्मियों एवं उनके परिजनों को उच्चस्तरीय चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के क्षेत्र में प्रशंसनीय कार्य किया है. उन्होंने कहा कि पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों एवं उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित कराकर रेल प्रशासन स्वास्थ्य संबंधी क्षेत्र में अपने दायित्व को बखूबी निभा रहा है.

    उन्होंने संबंधित अधिकारियों को रोगियों के प्रति सहानुभूतिपूर्ण रवैया रखते हुए उनको हरसंभव चिकित्सा सहायता प्रदान किए जाने को प्राथमिकता देने को कहा. रेलयात्रियों एवं रेल-संपत्ति की सुरक्षा के लिए किए जा रहे प्रयासों पर चर्चा करते हुए प्रदीप कुमार ने भावी चुनौतियों का सामना करने के लिए हर दृष्टि से तत्पर एवं सजग रहने पर जोर दिया. रेल कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान पर विशेष ध्यान दिए जाने के साथ उनकी सेवा संबंधी सुविधाओं को तत्परतापूर्वक उपलब्ध कराए जाने की दिशा में किए जा रहे कार्यों पर संतोश व्यक्त करते हुए उन्होंने अनेक बहुमूल्य सुझाव भी दिए.

    पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र ने अपने स्वागत संबोधन में कहा कि पूर्वोत्तर रेलवे के विकास में मेंबर स्टाफ एवं मेंबर ट्रैक्शन का विशेष मार्गदर्शन एवं सहयोग हमेशा मिलता रहा है. उन्होंने कहा कि एक्ट अप्रेन्टिसों के समायोजन के संबंध में उनके निर्देशों से रेल प्रशासन को निश्चित रूप से उच्च कोटि के कर्मचारी उपलब्ध होगें. श्री मिश्र ने कहा कि विगत दो वर्षों में प्रदीप कुमार की विशेष पहल से पूर्वोत्तर रेलवे को लगभग 1000 सहायक लोको पायलट प्राप्त हुए हैं, जिनसे रेल संचालन में अपेक्षित सहयोग मिला है.

    पूर्वोत्तर रेलवे पर चिकित्सा सुविधाओं में विस्तार पर चर्चा करते हुए महाप्रबंधक श्री मिश्र ने कहा कि मेंबर स्टाफ एवं मेंबर ट्रैक्शन द्वारा बड़े शहरों में रेल कर्मियों एवं उनके परिजनों हेतु कैशलेस चिकित्सा सुविधा के लिए उठाए गए कदम अत्यंत लाभकारी सिद्ध हुए हैं तथा उनका विस्तार अन्य शहरों में भी किया जा रहा है. इस अवसर पर उन्होंने कर्मचारियों की पदोन्नति सहित अनेक मुद्दों पर किए जा रहे प्रयासों की विस्तृत जानकारी भी दी.

    बैठक में मुख्य चिकित्सा निदेशक डॉ. सतीश चंद्रा ने चिकित्सा विभाग, अपर मुख्य सुरक्षा आयुक्त, रेलवे सुरक्षा बल पंकज गंगवार ने सुरक्षा विभाग एवं मुख्य कार्मिक अधिकारी/प्रशासन श्रीप्रकाश ने कार्मिक विभाग की गतिविधियों एवं उपलब्धियों की विस्तृत जानकारी पावर प्वाइंट प्रस्तुति के माध्यम से दी. बैठक में चर्चाओं का समन्वय मुख्य कार्मिक अधिकारी/प्रशासन श्रीप्रकाश ने किया.

सम्पादकीय